GOLDEN PYRITE -मुर्ख सोना एक खनिज क्रिस्टल

      


GOLDEN PYRITE -मुर्ख सोना एक खनिज क्रिस्टल
The mineral pyrite, or iron pyrite, also known as fool's gold, is an iron sulfide with the chemical formula FeS2. This mineral's metallic luster and pale brass-yellow hue give it a superficial resemblance to gold, hence the well-known nickname of fool's gold. The color has also led to the nicknames brass, brazzle, and Brazil, primarily used to refer to pyrite found in coal.) FROM WIKIPEDIA
Pyrite Healing Properties:-Intelligence ,Mental stability , Logic , Creativity , Psychic development , Memory , Practicality ,Optimism , Channeling abilities , Learning and Perception
खनिज पाइराइट या लोहे का पाइराइट एक खनिज पत्थर है इसे मुर्ख सोने के रूप में जाना जाता है ,लोहे का सल्फाइड का केमिकल फार्मूला FES2 है। यह खनिज बिल्कुल सोने के तरह दीखता है इसे देखकर लोग इसे सोना ही समझ लेते है शायद इसीलिए इसे मुर्ख सोना भी कहा गया है। 
इस पत्थर की विशेषता है की यह सोने की चमक के साथ वजन मैं भार भी लिए हुए है। इस खनिज पर वर्षो की खोज और मेहनत के बाद इसके गुणों के पहचान की गई तब इसका इस्तेमाल मैडिटेशन ,ह्रदय चक्र , विशुद्ध चक्र और आज्ञा चक्र पर बहुत अच्छा अनुभव हुआ। इसकी खासियत की इसमें अग्नि और पृथ्वी तत्व के गुण बहुत अधिक मात्र मैं पाए गए ,इसका वास्तु में प्रयोग करने पर बहुत अच्छे परिणाम प्राप्त हुए। इस खनिज पत्थर से धन , बुद्धि, दिमागी संतुलन, याद्दाशत , शारीरिक मजबूती , ध्यान ,काम करने की शक्ति , काम भाव , आपका दूसरे व्यक्ति पर प्रभाव , बातचीत का संतुलन , व्यापर में प्रगति , के साथ हर प्रकार की नकरात्मक ऊर्जा को खत्म करने में बहुत कारगर रहा है। 
इस खनिज के इस्तेमाल के तरीके से की प्रकार लाभ लिया जा सकता है इसके लिए आप हमसे मिलकर बात करके इसे प्राप्त करके इसकी सकरात्मक ऊर्जा का लाभ ले सकते है। 
Acharya Anil Verma
C7/73 Pradeep bhatia road sector-7 Rohini Delhi-
whatsapp 9811715366 ,
8826098989

CITRINE -SUNELA सुनेला वास्तु अनुसार उपयोग


     




CITRINE -SUNELA सुनेला - हिंदी में इसे सुनेला के नाम से जाना जाता है , इस रत्न के बारे मैं अधिकतर लोगो को पता है की इसे पुखराज के बदले मैं अंगूठी मैं पहना जाता है , इसे बृहस्पति गृह की शुभता के लिए धारण किया जाता है।  परन्तु इसके अलावा इस पत्थर  की कच्चे टुकड़ो को वास्तु अनुसार भी इस्तेमाल करना बहुत शुभ होता है , इसके प्राकृतिक गुणों की वजह से इस रत्न से विद्या , ज्ञान, शांति , मानसिक शांति , धन ,स्वस्थ्य ,विवाहिक सम्बन्धो की मजबूती , संतान सुख , नजर दोष सुरक्षा के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है ,यह रत्न पिले रंग की आभा लिए बहुत सूंदर रंग बिखेरता है ,इसमें बृहस्पति गृह के समस्त गुण विद्यमान होते है , जिस प्रकार ज्योतिष में बृहस्पति को ज्ञान, धन,संतान, विवाह का कारक मन गया है उसी प्रकार सुनेला भी इन सभी गुणों के प्रभाव को बढ़ाने का सामर्थ्य रखता है ,  सूर्य की किरणों से सम्बन्ध करके यह बहुत शुभ फल देता है ,इसके टुकड़ो को मेज के मध्य , पढ़ने की मेज पर , व्यापर स्थल पर ,बैडरूम , भोजन कक्ष ,उत्तर , उत्तर पूर्व , पूर्व  दिशाओं के दोषों को सुधारने के लिए इस्तेमाल होता है। इस रत्न से कुण्डलनी के  स्वाधिष्ठान चक्र व मणिपुर  चक्र को जाग्रत करने में मदद मिलती है।
स्वाधिष्ठान चक्र लिंग मूल में है । उसकी छ: पंखुरियाँ हैं । इसके जाग्रत होने पर क्रूरता,गर्व, आलस्य, प्रमाद, अवज्ञा, अविश्वास आदि दुर्गणों का नाश होता है ।
 मणिपूर चक्र - नाभि में दस दल वाला मणिचूर चक्र है । यह प्रसुप्त पड़ा रहे तो तृष्णा, ईष्र्या, चुगली, लज्जा, भय, घृणा, मोह, आदि कषाय-कल्मष मन में लड़ जमाये पड़े रहते हैं ।
इस रत्न के अंगूठी मैं पहनने , वास्तु अनुसार उपयोग करने , और अन्य लाभ प्राप्त करने के लिए हमसे सलाह लेकर प्राप्त करें
Acharya Anil Verma
Master in Astrology and Vastu Shastra
C7/73 First floor Pradeep Bhatia Road
Sector-7 Rohini Delhi -
9811715366 , 8826098989

Amethyst कटेला


       





Amethyst कटेला , जमुनिया ये पत्थर जमीन के अत्यन्त गहरी पर्तो से निकलता है , इसका रंग नीली आभा लिए होता है , अनेको आभूषणो में इसका इसका प्रयोग सदियों से होता आया है , इसको कुट्टिंग पोलिश करके सूंदर बना कर अगूंठी बनवा कर शनि गृह की शांति के लिए , नजर दोष से बचने के लिए भी पहना जाता है , विदेशों में इसकी बड़े बड़े सूंदर टुकड़ो के आभूषण , मालाएं , बहुत शौंक से पहनते है , 
हमारी वर्षो के मेहनत , खोज और अनेको प्रयोगों के बाद अब हम 
इसी पत्थर को अब वास्तु दोष निवारण , बुरी नजर से बचाव , व्यापर या फैक्ट्री में बार बार रुकावट , बंद कारोबार , शनि के शुभ प्रभाव के लिए घरों में , व्यापर स्थल , फैक्टरियों में वहां का वास्तु दोष देखकर इसी पत्थर के बड़े बड़े टुकड़े जो रफ़ बिना कुट्टिंग के सीधे जमीन से निकलते है उनको सही दिशा मैं रखवाते है ,या इसके छोटे छोटे बिना कुट्टिंग के टुकड़े सही दिशा अनुसार जमीन में फर्श के निचे दबवाते है ,इस कटेले पत्थर को पोलिश किया हुए बॉल गेंद के रूप में भी रखा जाता है। बड़ी बड़ी चट्टानें सजावट में बहुत सूंदर दिखती है।
यह पत्थर हर प्रकार की बुरी नजर, किया-कराया , नकरात्मक ऊर्जा को तुरंत खत्म करने मैं सक्षम है , व इसके बड़े बड़े टुकड़े घर में सजावट की तरह रखवाए जाते है।
किसी भी प्रकार की ज्योतिष वास्तु सलाह के लिए संपर्क करें
आचार्य अनिल वर्मा
Master in Astrology and Vastu Shastra
C7/73 First floor Pradeep bhatia road
sector-7 Rohini
whats app-9811715366
8826098989

Rose Quartz गुलाबी स्फटिक

                                  


Rose Quartz गुलाबी स्फटिक ये पत्थर गुलाबी रंग की आभा लिए असली स्फटिक जो पृथ्वी के अत्यन्त निचे विस्फोट करके निकल जाता है। इसकी सूंदर पोलिश कटाई करके इसको आभूषणो में जड़वा कर भी पहना जाता है। इसको प्रेम का प्रतिक भी कहा जाता है। वास्तु अनुसार घर के शयन कक्ष मैं दक्षिण पूर्व स्थान पर रखने से इसके बहुत अचे परिणाम मिलते है , इसके अलावा इसको नाभि पर रखकर धयान करने से ह्रदय चक्र शुद्ध होता है और दिलो मैं आई दूरियां , गलतफहमियां ठीक होती है। 
पति पत्नी के सम्बन्धों मे आई दरार दूर होकर प्रेम का ,उल्लास का मधुर वातावरण बनता है , ये घर की समस्त नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करके सकरात्मक ऊर्जा का प्रवाह बनता है।
किसी भी प्रकार के वास्तु दोष निवारण , जन्मपत्री विश्लेषण ,समस्याओं के समाधान के लिए संपर्क करें ,हमारे यहाँ असली शुद्ध राशि रत्न व विभिन्न सकरात्मक ऊर्जा प्रवाह के असली स्फटिक मिलते है।
आचार्य अनिल वर्मा
C7/73 First floor Sector -7 Pradeep bhatia road
Rohini Delhi
whatsapp 9811715366
call 8826098989

Acharya Anil Verma - Astrologer@UrbanClap